24 April, 2012

मुन्स्यारी मिलन केन्द्र बनवाने में दो प्रमुख मुन्स्यारी के व्यक्ति

पछले ब्लागो में आपने मुन्स्यारी मिलन केन्द्र के 6 अक्तूबर, 2011 को उदघाटन के बारे में जाना। अब मै आपको उसके ले-आउट रेखाचित्र को दिखा रहा हूँ ताकि आप मुन्स्यारी में उसकी स्थिति जान सके।
एक और रेखाचित्र मुन्स्यारी मिलन केन्द्र के कमरो आदि को दर्शा रहा है।

इस मुन्स्यारी मिलन केन्द्र को बनवाने में दो स्थानीय लोगो का मुख्य योगदान रहा जिनके बारे में कुछ और जानकारियाँ दी जो रही है।

श्री चन्द्र सिंह लस्पाल- 

श्री चन्द्र सिंह लस्पाल पुत्र श्री शोबन सिंह लस्पाल का जन्म 19 अप्रैल,1949 में हुवा। उन्होने प्राईमरी की परीक्षा रा. प्रा. विद्यालय, लास्पा से 1961 में पूरे ब्लाक में प्रथम स्थान पर प्राप्त किया। और हाई स्कूल 1966 में जी.आई.सी. मुन्सयारी से द्वितीय क्षेणी में पास की। तदुपरान्त वे  प्राईमरी विद्यालय में शिक्षक बन गये और निम्नलिखित स्थानो पर कार्य किया-
(1)               शिक्षक प्राथमिक विद्यालय, क्वीरी जीमियाँ  - 1969-1981
(2)               शिक्षक प्राथमिक विद्यालय, लास्पा  - 1981-1985
(3)               उ.प्रा. विद्यालय, जिमिघाट- 29.12.85- 25.8.87
(4)               उ.प्रा. विद्यालय, रांथी - 26.8.87- 1.7.93 (शिक्षा विभाग व जिलाधिकारी द्वारा 5 सितम्बर,1991 को प्रशस्ति पत्र प्राप्त)
(5)               पुनः स्वेच्छा से पदानवन लेकर प्रा. विद्यालय में प्रधानाध्यापक  के पद पर तिकसैन में 2.7.93 से कार्यरत।
(6)               दिनांक 10.6.2000से सेवानिवृत के तिथि 31.12.08 तक   एवं   में ब्लाक समन्वयक के रूप में कार्यरत । इस बीच परियोजना का लाभ पूरे जनपद के एकतिहाई हिस्सा विशेष खण्ड मुन्स्यारी को दिलाने में सहयोग-शिक्षामित्र की व्यवस्था- 107 जो धीरे धीरे पूर्ण शिक्षक के रूप में समायोजित हो रहे हैं। -68 शिक्षा आचार्यो की व्यवस्था जो शिक्षामित्र बन जोयेगे- मल्लाजोहार में लास्पा, वुर्फू, टोला व रालम में प्राथमिक विद्यालय खुलवाने में सहयोग- उन्हे दुख है कि यदि एक वर्ष की सेवा अधिक होती तो वुर्फू में जूनियर हाईस्कूल खोलने की उनकी मंशा पूर्ण हो पाती।
वर्तमान में- (1) जोहार क्लब में कोषाध्यक्ष
          (2) सीमान्त सेवानिवृत कर्मचारी संगठन मुन्स्यारी के सचिव
          (3) मुन्स्यारी विकास मंच के अध्यक्ष

श्री गोकर्ण सिंह मर्तोलिया-

श्री गोकर्ण सिंह मर्तोलिया पुत्र स्व. श्री प्रताप सिंह मर्तोलिया का जन्म 7 जुलाय,1949 को बला ग्राम में हुवा। इन्होने हाईस्कूल तक पढाई कर व्यवसाय में लग गये और वर्तमान में एक सफल ठेकेदार के रूप में प्रतिष्ठित हैं । उनकी रुचि सामाजिक कार्यो में भी है जिनमें निम्नलिखित कार्य उल्लेखनीय हैं-
(1)               बहुउद्देशीय सहकारी समिति मुन्स्यारी में दो कार्यकाल के अध्यक्ष रहे।
(2)               वर्ष 2006 से वर्ष 2008 तक जोहार क्लब के अध्यक्ष रहे।
(3)               वर्तमान में जोहार सहकारी विकास संघ लि. के प्रशासक के पद पर कार्यरत हैं।
(4)               राजनिति क्षेत्र में भारतीय जमता पार्टी उत्तराखंड के प्रदेश कार्यकारिणी के विशेष आमंत्रित सदस्य हैं।

No comments:

Post a Comment